Thursday, 30 June 2016

Triple Filter Test

*Beautiful story*.....

One day a person met the great *Chanakya*,and said, "Do you know what I just heard about your friend?"

"*Hold on a minute*," Chanakya replied. 

"Before telling me anything I'd like you to pass a little test. 

It's called the ,*Triple Filter Test*.'

"Triple filter?"

"That's right," Chanakya continued. 

"Before you talk to me about my friend, it might be a good idea to take a moment and filter what you're going to say. That's why I call it the *triple filter test*.

The first filter is *Truth*.

Have you made absolutely sure that what you are about to tell me is true?"

"No," the man said, "actually I just heard about it and..."

"All right," said Chanakya. "So you don't know if it's true or not.

Now let's try the second filter, the filter of *Goodness*.

Is what you are about to tell me about my friend something *good*?

"No, on the contrary..."

"So," Chankaya continued, "you want to tell me something bad about him, but you're not certain it's true.

You may still pass the test though, because there's one filter left, the *filter of Usefulness*.

Is what you want to tell me about my friend going to be *useful* to me?"

"No, not really."

"Well," concluded chankaya, "if what you want to tell me is *neither true nor good nor even useful*,why tell it to me at all?"
____________________________
*Use this triple filter* each time you hear *loose talk*about any of your near and dear ones.
Something really *useful* to stay on friendships so long

It is *worth*applying in everyone's life.

WHISKEY DAY

Wishing all alcohol lovers very happy whisky day. !!!!!

*TODAY IS WORLD WHISKEY DAY*

In our life, problems may go from "Haywards 2000"🍺 to "Haywards 5000"🍺 , but we must take them as a "Royal Challenge "🍺 otherwise people will call us "Old Monk"🍺 and put a "Black Label "🍺 on our name. So we must learn from "Teachers"🍺 to fight like "Jack Daniel"🍺 , live like a "Bagpiper"🍺 , walk like "Johny Walker"🍺 , work till "8 PM"🍺 & think like "Director Special" 🍺. Catch the ideas like "kingfisher 🍺" and "knockout" 🍺 all the problems. Then life will be "Imperial"🍺 & we will become "Aristocrat"🍺 & there will be value for our "Signature"🍻🍺🍺

Cheers!

Friday, 24 June 2016

भाषा !!

       बहुत कम लोग 
       जानते होंगे की 
       प्रसाद का अर्थ 
        क्या होता है !!

                🏀🏀🏀
           🏀प्र - प्रभु  के🏀
          🏀सा - साक्षात्🏀
            🏀द - दर्शन🏀
                  🏀🏀

हिंदी एक वैज्ञानिक भाषा है 
और कोई भी अक्षर वैसा क्यूँ है 
उसके पीछे कुछ कारण है ,
अंग्रेजी भाषा में ये 
बात देखने में नहीं आती |
______________________
क, ख, ग, घ, ङ- कंठव्य कहे गए,
 क्योंकि इनके उच्चारण के समय 
ध्वनि 
कंठ से निकलती है। 
एक बार बोल कर देखिये |

च, छ, ज, झ,ञ- तालव्य कहे गए, 
क्योंकि इनके उच्चारण के 
समय जीभ 
तालू से लगती है।
एक बार बोल कर देखिये |

ट, ठ, ड, ढ , ण- मूर्धन्य कहे गए, 
क्योंकि इनका उच्चारण जीभ के 
मूर्धा से लगने पर ही सम्भव है। 
एक बार बोल कर देखिये |


त, थ, द, ध, न- दंतीय कहे गए, 
क्योंकि इनके उच्चारण के 
समय 
जीभ दांतों से लगती है। 
एक बार बोल कर देखिये |

प, फ, ब, भ, म,- ओष्ठ्य कहे गए, 
क्योंकि इनका उच्चारण ओठों के 
मिलने 
पर ही होता है। एक बार बोल 
कर देखिये ।
________________________

हम अपनी भाषा पर गर्व 
करते हैं ये सही है परन्तु लोगो को 
इसका कारण भी बताईये |
इतनी वैज्ञानिकता
दुनिया की किसी भाषा मे
नही है

कृपया इस ज्ञान की जानकारी सभी को अग्रेषित करें ।

चबेना

एक स्वादिष्ट दुधिया चबेना गेहूं की कच्छी बालियों को अध्जला के बनाया जाता था कभी। जिसे उमा ,उमी, या उंवा कहा जाता है । हिमालय के स्थानीय देवताओं को यही चढ़ाये जाते हैं। हम बचपन में खूब लालायित रहते थे इसे खाने के लिए । हिमालय के लुप्त होते चबेनों । व्यंजनों। में एक यह चबेना यह भी शामिल है जो हमारे आदिम इतिहास और सुरुवाती समय को दर्शाता है । संभव है यह स्वादिस्ट चबेना भविष्य में डिब्बा बन्द हो के बिके और हम इसे चाव से खाएं या फिर लुप्त ही हो जाय ।

Sunday, 19 June 2016

Husband V/S Wife

(1)  
Put your wife in a room & lock it. 
Put your dog in another room & lock it !!! 
Open both rooms after 2 - 3 hours & see who is Happy to see you, and who will BITE you !  

(Group members are advised not to try this at home as these stunts were performed by professionals; who are now divorced; and living happily with their dog!!)  
 
Don't laugh loud ----  
The extended version says...
 
2) 
Put your husband in a room & lock it. 
Put your dog in another room & lock it !!! 
Open both rooms after 2 - 3 hours & you will be happy to see your dog waiting for you.. but you'll be angry looking at your husband sleeping like he never slept before!!! 
 

3) 
Always keep your spouse’s picture as mobile screen saver. 
Whenever you face a problem, see the picture & say: "if I can handle this, I can handle anything!"… Superb Attitude for Life!!
 

(4) 
If wife wants husband’s attention, she just has to look sad & uncomfortable. 
If husband wants wife’s attention, he just has to look comfortable & happy.
 
(5) 
A Philosopher HUSBAND said:- "Every WIFE is a ‘Mistress’ of her Husband… 
 “Miss” for first year & “Stress” for rest of the life…"!!!!  
 

(6) 
Million Dollar Truth: 
If Saturday and Sunday doesn't excite you, then change your Friends. 
If Monday doesn't motivate you, then change your profession. 
If Monday is too exciting, and you are dying to get to work, then you should change your spouse!!
 
(7) 
Do you remember the tingling feeling when you took the decision to get married? 
That was common sense leaving your body. 
 
(8)
Generally a man does not go to the place again where he has been cheated once… 
But many people still go to their in-laws place..?
 
(9) 
Pappu: Dad, l got selected for a role in a play for annual day! 
Dad: What role are you playing? 
Pappu: A husband! 
Dad: Stupid, ask for a role with dialogues! 
 
(10)
Man outside phone booth: “Excuse me you are holding phone since 29 minutes and you haven’t spoken a word”. 
Man inside: “I am
 talking to my wife” 
 
(11) 
A very intelligent girl was asked the meaning of marriage.. 
She said- “sacrificing the admiration of hundred guys, to face the criticism of one idiot” 
 
(12) 
Position of a husband is just like a Split AC, No matter how loud he is outdoor, He is designed to remain silent indoor! 
 
(13) 
Best one line ad by a married man on OLX:  
"For Sale – Wedding Suit, used only once by mistake".

Friday, 17 June 2016

Warren Buffet

There was a one hour interview on CNBC with Warren Buffet, the second Richest man who has Donated $31 billion to charity.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
Here are some very interesting aspects of his life:
 〰〰〰〰〰〰〰〰
1. He bought his first share at age 11 and he now regrets that he started too late!
 〰〰〰〰〰〰〰〰
2. He bought a small farm at age 14 with savings from delivering newspapers
 〰〰〰〰〰〰〰〰
3. He still lives in the same small 3-bedroom house in mid-town Omaha, which he bought after he got married 50 years ago. He says that he has everything he needs in that house. His house does not have a wall or a fence.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
4. He drives his own car everywhere and does not have a driver or security people around him.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
5. He never travels by private jet, although he owns the world's largest private jet company.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
6. His company, Berkshire Hathaway, owns 63 companies. He writes only one letter each year to the CEOs of these companies, giving them goals for the year. He never holds meetings or calls them on a regular basis. He has given his CEO's only two rules. Rule number 1: do not lose any of your share holder's money. Rule number 2: Do not forget rule number 1.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
7. He does not socialize with the high society crowd. His past time after he gets home is to make himself some pop corn and watch Television.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
8. Bill Gates, the world's richest man met him for the first time only 5 years ago. Bill Gates did not think he had anything in common with Warren Buffet. So he had scheduled his meeting only for half hour. But when Gates met him, the meeting lasted for ten hours and Bill Gates became = devotee of Warren Buffet.
 〰〰〰〰〰〰〰〰
9. Warren Buffet does not carry a cell phone, nor has a computer on his deskHis advice to young people: "Stay away from credit cards and invest in yourself and Remember:
 🔹🔹🔹🔹🔹🔹🔹🔹
A : Money doesn't create man but it is the man who created money.

B : Live your lives as simple as you are.

C. Don't do what others say, just listen them, but do what you feel good.

D : Don't go on brand name; just wear those things in which u feel comfortable.

E :  Don't waste your money on unnecessary things; just spend on them who really in need rather.

F :  After all it's your life then why give chance to others to rule.
The above may not make you Warren Buffet. .. However it will surely make you  successful and bring you more wisdom ...!
  🔸🔸🔸🔸🔸🔸🔸🔸

Wednesday, 15 June 2016

प्रेरणा

*Quote 1 .* जब लोग आपको *Copy* करने लगें तो समझ लेना जिंदगी में *Success* हो रहे हों.

*Quoted 2 .* कमाओ…कमाते रहो और तब तक कमाओ, जब तक महंगी चीज सस्ती न लगने लगे.

*Quote 3 .* जिस व्यक्ति का लालच खत्म, उसकी तरक्की भी खत्म.

*Quote 4 .* यदि *“Plan A”* काम नही कर रहा, तो कोई बात नही *25* और *Letters* बचे हैं उन पर *Try* करों.

*Quote 5 .* जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं कि उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की.

*Quote 6 .* भीड़ हौंसला तो देती हैं लेकिन पहचान छिन लेती हैं.

*Quote 7 .* अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने में लग जाती हैं.

*Quote 8 .* कोई भी महान व्यक्ति अवसरों की कमी के बारे में शिकायत नहीं करता.

*Quote 9 .* महानता कभी ना गिरने में नहीं है, बल्कि हर बार गिरकर उठ जाने में है.

*Quote 10 .* जिस चीज में आपका *Interest* हैं उसे करने का कोई टाईम फिक्स नही होता. चाहे रात के *1* ही क्यों न बजे हो.

*Quote 11 .* अगर आप चाहते हैं कि, कोई चीज अच्छे से हो तो उसे खुद कीजिये.

*Quote 12 .* सिर्फ खड़े होकर पानी देखने से आप नदी नहीं पार कर सकते.

*Quote 13 .* जीतने वाले अलग चीजें नहीं करते, वो चीजों को अलग तरह से करते हैं.

*Quote 14 .* जितना कठिन संघर्ष होगा जीत उतनी ही शानदार होगी.

*Quote 15 .* यदि लोग आपके लक्ष्य पर *हंस* नहीं रहे हैं तो समझो *आपका लक्ष्य बहुत छोटा हैं.*

*Quote 16 .* विफलता के बारे में चिंता मत करो, आपको बस एक बार ही सही होना हैं.

*Quote 17 .* सबकुछ कुछ नहीं से शुरू हुआ था.

*Quote 18 .* हुनर तो सब में होता हैं फर्क बस इतना होता हैं किसी का *छिप* जाता हैं तो किसी का *छप* जाता हैं.

*Quote 19 .* दूसरों को सुनाने के लिऐ अपनी आवाज ऊँची मत करिऐ, बल्कि अपना व्यक्तित्व इतना ऊँचा बनाऐं कि आपको सुनने की लोग मिन्नत करें.

*Quote 20 .* अच्छे काम करते रहिये चाहे लोग तारीफ करें या न करें आधी से ज्यादा दुनिया सोती रहती है ‘सूरज’ फिर भी उगता हैं.

*Quote 21 .* पहचान से मिला काम थोडे बहुत समय के लिए रहता हैं लेकिन काम से मिली पहचान उम्रभर रहती हैं.

*Quote 22 .* जिंदगी अगर अपने हिसाब से जीनी हैं तो कभी किसी के *फैन* मत बनो.

*Quote 23 .* जब गलती अपनी हो तो हमसे बडा कोई वकील नही जब गलती दूसरो की हो तो हमसे बडा कोई जज नही.

*Quote 24 .* आपका खुश रहना ही आपका बुरा चाहने वालो के लिए सबसे बडी सजा हैं.

*Quote 25 .* कोशिश करना न छोड़े, गुच्छे की आखिरी चाबी भी ताला खोल सकती हैं.

*Quote 26 .* इंतजार       बंद करो, क्योकिं सही समय कभी नही आता.

*Quote 27 .* जिस दिन आपके *Sign #Autograph* में बदल जाएंगे, उस दिन आप *बड़े आदमी बन जाओगें.*

*Quote 28 .* काम इतनी शांति से करो कि सफलता शोर मचा दे.

*Quote 29 .* तब तक पैसे कमाओ जब तक तुम्हारा बैंक बैलेंस तुम्हारे फोन नंबर की तरह न दिखने लगें.*

*Quote 30 .* *अगर एक हारा हुआ इंसान हारने के बाद भी मुस्करा दे तो जीतने वाला भी जीत की खुशी खो देता हैं. ये हैं मुस्कान की ताकत.*
👍👍
🙏

Tuesday, 14 June 2016

*माँ की इच्छा*

🔴🎷🌺 *माँ की इच्छा* 🌺🎷🔵

   महीने बीत जाते हैं ,
   साल गुजर जाता है ,
   वृद्धाश्रम की सीढ़ियों पर ,
   मैं तेरी राह देखती हूँ।

                   आँचल भीग जाता है ,
                   मन खाली खाली रहता है ,
                   तू कभी नहीं आता ,
                   तेरा मनि आर्डर आता है।

                             इस बार पैसे न भेज ,
                             तू खुद आ जा ,
                             बेटा मुझे अपने साथ ,
                         अपने 🏡घर लेकर जा।

 तेरे पापा थे जब तक ,
 समय ठीक रहा कटते ,
 खुली आँखों से चले गए ,
 तुझे याद करते करते।

               अंत तक तुझको हर दिन ,
               बढ़िया बेटा कहते थे ,
               तेरे साहबपन का ,
               गुमान बहुत वो करते थे।

                        मेरे ह्रदय में अपनी फोटो ,
                        आकर तू देख जा ,
                        बेटा मुझे अपने साथ ,
                        अपने 🏡घर लेकर जा।

अकाल के समय ,
 जन्म तेरा हुआ था ,
 तेरे दूध के लिए ,
 हमने चाय पीना छोड़ा था।

               वर्षों तक एक कपडे को ,
               धो धो कर पहना हमने ,
               पापा ने चिथड़े पहने ,
               पर तुझे स्कूल भेजा हमने।

                         चाहे तो ये सारी बातें ,
                         आसानी से तू भूल जा ,
                         बेटा मुझे अपने साथ ,
                         अपने 🏡घर लेकर जा।

 घर के बर्तन मैं माँजूंगी ,
 झाडू पोछा मैं करूंगी ,
  खाना दोनों वक्त का ,
  सबके लिए बना दूँगी।

            नाती नातिन की देखभाल ,
            अच्छी तरह करूंगी मैं ,
            घबरा मत, उनकी दादी हूँ ,
            ऐंसा नहीं कहूँगी मैं।

                        तेरे 🏡घर की नौकरानी ,
                        ही समझ मुझे ले जा ,
                        बेटा मुझे अपने साथ ,
                        अपने 🏡घर लेकर जा।

 आँखें मेरी थक गईं ,
 प्राण अधर में अटका है ,
 तेरे बिना जीवन जीना ,
 अब मुश्किल लगता है।

                 कैसे मैं तुझे भुला दूँ ,
                 तुझसे तो मैं माँ हुई ,
                 बता ऐ मेरे कुलभूषण ,
                 अनाथ मैं कैसे हुई ?

अब आ जा तू..
एक बार तो माँ कह जा ,
हो सके तो जाते जाते
 वृद्धाश्रम गिराता जा।
              बेटा मुझे अपने साथ
              अपने 🏡घर लेकर जा

One Line Humors...

Regular naps prevent old age, especially if you take them while driving.
😀😀
Having one child makes you a parent; having two you are a referee.
😀😀
Marriage is a relationship in which one person is always right and the other is the husband!
😀😀
I believe we should all pay our tax with a smile. I tried - but they wanted cash.
😀😀
A child's greatest period of growth is the month after you've purchased new school uniforms.
😀😀
Don't feel bad. A lot of people have no talent.
😀😀
Don't marry the person you want to live with, marry the one you cannot live without, but whatever you do, you'll regret it later.
😀😀
You can't buy love, but you pay heavily for it.
😀😀
Bad officials are elected by good citizens who do not vote.
😀😀
Laziness is nothing more than the habit of resting before you get tired.
😀😀
Marriage is give and take. You'd better give it to her or she'll take it anyway.
😀😀
My wife and I always compromise. I admit I'm wrong and she agrees with me.
😀😀
A successful marriage requires falling in love many times, always with the same person.
😀😀
It doesn't matter how often a married man changes his job, he still ends up with the same boss.
😀😀
Real friends are the ones who survive transitions between address books.
😀😀
Saving is the best thing. Especially when your parents have done it for you.
😀😀
Wise men talk because they have something to say; fools talk because they have to say something.
😀😀
They call our language the mother tongue because the father seldom gets to speak!
😀😀
Man: Is there any way for long life?
Dr: Get married.
Man: Will it help?
Dr: No, but then the thought of long life will never come!
😀😀
Why do couples hold hands during their wedding? It's a formality just like two boxers shaking hands before the fight begins!
😀😀
Wife: Darling today is our anniversary, what should we do?
Husband: Let us stand in silence for 2 minutes.
😀😀
It's funny when people discuss Love Marriage vs Arranged. It's like asking someone, if suicide is better or being murdered.
😀😀
There is only one perfect child in the world and every mother has it.
😀😀
There is only one perfect wife in the world and every neighbor has it!
Cheers !!!
😜

Friday, 10 June 2016

अर्थपूर्ण पुराण

बेटे ने माँ से पूछा - "माँ,  मैं एक आनुवंशिक वैज्ञानिक हूँ | मैं अमेरिका में मानव के विकास पर काम कर रहा हूँ | विकास का सिद्धांत, चार्ल्स डार्विन, आपने उसके बारे में सुना है ?" 

उसकी माँ उसके पास बैठी और मुस्कुराकर बोली - “मैं डार्विन के बारे में जानती हूँ, बेटा | मैं यह भी जानती हूँ कि तुम जो सोचते हो कि उसने जो भी खोज की, वह वास्तव में भारत के लिए बहुत पुरानी खबर है |“

“निश्चित रूप से माँ !” बेटे ने व्यंग्यपूर्वक कहा |

“यदि तुम कुछ होशियार हो, तो इसे सुनो,” उसकी माँ ने प्रतिकार किया | “क्या तुमने दशावतार के बारे में सुना है ? विष्णु के दस अवतार ?” बेटे ने सहमति में सिर हिलाया |
“तो मैं तुम्हें बताती हूँ कि तुम और मि. डार्विन क्या नहीं जानते हैं |

पहला अवतार था मत्स्य अवतार, यानि मछली | ऐसा इसलिए कि जीवन पानी में आरम्भ हुआ | यह बात सही है या नहीं ?” बेटा अब और अधिक ध्यानपूर्वक सुनने लगा |

उसके बाद आया दूसरा कूर्म अवतार, जिसका अर्थ है कछुआ, क्योंकि जीवन पानी से जमीन की ओर चला गया 'उभयचर (Amphibian)' | तो कछुए ने समुद्र से जमीन की ओर विकास को दर्शाया |

तीसरा था वराह अवतार, जंगली सूअर, जिसका मतलब है जंगली जानवर जिनमें बहुत अधिक बुद्धि नहीं होती है | तुम उन्हें डायनासोर कहते हो, सही है ? बेटे ने आंखें फैलाते हुए सहमति जताई |
 
चौथा अवतार था नृसिंह अवतार, आधा मानव, आधा पशु, जंगली जानवरों से बुद्धिमान जीवों तक विकास |

पांचवें वामन अवतार था, बौना जो वास्तव में लंबा बढ़ सकता था | क्या तुम जानते हो ऐसा क्यों है ? क्योंकि मनुष्य दो प्रकार के होते थे, होमो इरेक्टस और होमो सेपिअंस, और होमो सेपिअंस ने लड़ाई जीत ली |" बेटा देख रहा था कि उसकी माँ पूर्ण प्रवाह में थी और वह स्तब्ध था |

छठा अवतार था परशुराम - वे, जिनके पास कुल्हाड़ी की ताकत थी, वो मानव जो गुफा और वन में रहने वाला था | गुस्सैल, और सामाजिक नहीं |

सातवां अवतार था मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम, सोच युक्त प्रथम सामाजिक व्यक्ति, जिन्होंने समाज के नियम बनाए और समस्त रिश्तों का आधार |

आठवां अवतार था जगद्गुरु श्री कृष्ण, राजनेता, राजनीतिज्ञ, प्रेमी जिन्होंने ने समाज के नियमों का आनन्द लेते हुए यह सिखाया कि सामाजिक ढांचे में कैसे रहकर फला-फूला जा सकता है |

नवां अवतार था भगवान बुद्ध, वे व्यक्ति जो नृसिंह से उठे और मानव के सही स्वभाव को खोजा | उन्होंने मानव द्वारा ज्ञान की अंतिम खोज की पहचान की |

और अंत में दसवां अवतार कल्कि आएगा, वह मानव जिस पर तुम काम कर रहे हो | वह मानव जो आनुवंशिक रूप से अति-श्रेष्ठ होगा |

बेटा अपनी माँ को अवाक होकर देखता रहा | “यह अद्भुत है माँ, आपका दर्शन. वास्तव में अर्थपूर्ण है |“

पुराण अर्थपूर्ण हैं | सिर्फ आपका देखने का नज़रिया होना चाहिए धार्मिक या वैज्ञानिक |

Monday, 6 June 2016

Valid even today.

*Cicero of the Roman empire wrote this about the situation during his lifetime :*

1. The poor, work & work.
2. The rich, exploit the poor.
3. The soldier, protects both.
4. The taxpayer, pays for all three.
5. The wanderer, rests for all four.
6. The drunk, drinks for all five.
7. The banker, robs all six.
8. The lawyer, misleads all seven.
9. The doctor, bills all eight.
10. The undertaker, buries all nine.
11. The Politician lives happily on account of all ten.
*Written in 43 B.C. , but valid even today.*

Sunday, 5 June 2016

मुस्कुराइए

अगर आप एक अध्यापक हैं और जब आप मुस्कुराते हुए कक्षा में प्रवेश करेंगे तो देखिये सारे बच्चों के चेहरों पर मुस्कान छा जाएगी।
.
.
.
Image result for smile image.
अगर आप डॉक्टर हैं और मुस्कराते हुए मरीज का इलाज करेंगे तो मरीज का आत्मविश्वासदोगुना हो जायेगा।
.
.
.
.
.
.
जब आप मुस्कुराते हुए शाम को घर में घुसेंगे तो देखना पूरे परिवार में खुशियों का माहौल बन जायेगा।
.
.
.
.
Image result for smile imageअगर आप एक बिजनेसमैन हैं और आप खुश होकर कंपनी में घुसते हैं तो देखिये सारे कर्मचारियों के मन का प्रेशर कम हो जायेगा और माहौल खुशनुमा हो जायेगा।
.
.
.
.
अगर आप दुकानदार हैं और मुस्कुराकर अपने ग्राहक का सम्मान करेंगे तो ग्राहक खुश होकर आपकी दुकान से ही सामान लेगा।
.
.
.
.
कभी सड़क पर चलते हुए अनजान आदमी को देखकर मुस्कुराएं, देखिये उसके चेहरे पर भी मुस्कान आ जाएगी।
.
.
.
1.मुस्कुराइए, क्यूंकि मुस्कराहट के पैसे नहीं लगते ये तो ख़ुशी और संपन्नता की पहचान है।

2.मुस्कुराइए, क्यूंकि आपकी मुस्कराहट कई चेहरों पर मुस्कान लाएगी।

3.मुस्कुराइए, क्यूंकि ये जीवन आपको दोबारा नहीं मिलेगा।

4.मुस्कुराइए, क्योंकि क्रोध में दिया गया आशीर्वाद भी बुरा लगता है और मुस्कुराकर कहे गए बुरे शब्द भी अच्छे लगते हैं।”

5. मुस्कुराइए ,क्योंकि दुनिया का हर आदमी खिले फूलों और खिले चेहरों को पसंद करता है।”

6. मुस्कुराइए, क्योंकि आपकी हँसी किसी की ख़ुशी का कारण बन सकती है।”

7. मुस्कुराइए, क्योंकि परिवार में रिश्ते तभी तक कायम रह पाते हैं जब तक हम एक दूसरे को देख कर मुस्कुराते रहते है”

और सबसे बड़ी बात

8. "मुस्कुराइए, क्योंकि यह मनुष्य होने की पहली शर्त है। एक पशु कभी भी नहीं मुस्कुरा सकता।”😂😂😂😊😊😊

Friday, 3 June 2016

स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

कमीज के बटन ऊपर नीचे लगाना

वो अपने बाल खुद न काढ पाना

पी टी शूज को चाक से चमकाना

वो काले जूतों को पैंट से पोछते जाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

वो बड़े नाखुनो को दांतों से चबाना

और लेट आने पे मैदान का चक्कर लगाना

वो prayer के समय class में ही रुक जाना

पकडे जाने पे पेट दर्द का बहाना बनाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

वो टिन के डिब्बे को फ़ुटबाल बनाना

ठोकर मार मार उसे घर तक ले जाना

साथी के बैठने से पहले बेंच सरकाना

और उसके गिरने पे जोर से खिलखिलाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

गुस्से में एक-दूसरे की

कमीज पे स्याही छिड़काना

वो लीक करते पेन को बालो से पोछते जाना

बाथरूम में सुतली बम पे अगरबती लगा छुपाना

और उसके फटने पे कितना मासूम बन जाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

वो games period के लिए sir को पटाना

unit test को टालने के लिए उनसे गिडगिडाना

जाड़ो में बाहर धूप में class लगवाना

और उनसे घर-परिवार के किस्से सुनते जाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

वो बेर वाली के बेर चुपके से चुराना

लाल –काला चूरन खा एक दूसरे को जीभ दिखाना

जलजीरा , इमली देख जमकर लार टपकाना

साथी से आइसक्रीम खिलाने की मिन्नतें करते जाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना …

वो लंच से पहले ही टिफ़िन चट कर जाना

अचार की खुशबूं पूरे class में फैलाना

वो पानी पीने में जमकर देर लगाना

ऐ मेरे स्कूल मुझे जरा फिर से तो बुलाना.......

Justice System

In a Criminal 
Justice System, 
here is a Jury 
to be proud of:

A defendant was 
on trial for murder. There was strong evidence indicating guilt, 
but there was no corpse.

In the defense's 
closing statement, 
the lawyer, 
knowing that his client would probably be convicted, 
resorted to a trick.

"Ladies and gentlemen of the jury, 
I have a surprise 
for you all," 
the lawyer said as he looked at his watch.
"Within one minute, 
the person  presumed dead in this case 
will walk into 
this courtroom." 
He looked towards 
the courtroom door.

The jurors, 
somewhat stunned, 
all looked on eagerly. 

A minute passed. Nothing happened. 

Finally the lawyer said, "Actually, 
I made up the previous statement. 
But you all looked on with anticipation.
I, therefore, put it to you that you have a reasonable doubt in this case as to whether anyone was killed, 
and I insist that you return a verdict of 
Not Guilty."

The jury retired to deliberate. 
A few minutes later, 
the jury returned 
and 
pronounced 
a verdict of Guilty. 

"But how?" 
inquired the lawyer. "You must have had some doubt; 
I saw all of you 
stare at the door."

The jury foreman replied:

"Yes, 
we did look, 
but your client didn't."o

दोस्त बहुत याद आते हैं....

.....मै यादों का 
किस्सा खोलूँ तो,
कुछ दोस्त बहुत 
याद आते हैं....  

...मै गुजरे पल को सोचूँ 
तो, कुछ दोस्त 
बहुत याद आते हैं....

.....अब जाने कौन सी नगरी में,
आबाद हैं जाकर मुद्दत से....

....मै देर रात तक जागूँ तो ,
कुछ दोस्त 
बहुत याद आते हैं....

....कुछ बातें थीं फूलों जैसी,
....कुछ लहजे खुशबू जैसे थे,
....मै शहर-ए-चमन में टहलूँ तो,
....कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं.

....सबकी जिंदगी बदल गयी,
....एक नए सिरे में ढल गयी,

....किसी को नौकरी से फुरसत नही...
....किसी को दोस्तों की जरुरत नही....

....सारे यार गुम हो गये हैं...
.... "तू" से "तुम" और "आप" हो गये है....

....मै गुजरे पल को सोचूँ 
तो, कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं....

...धीरे धीरे उम्र कट जाती है...
...जीवन यादों की पुस्तक बन जाती है,
...कभी किसी की याद बहुत तड़पाती है...
और कभी यादों के सहारे ज़िन्दगी कट जाती है ...

.....किनारो पे सागर के खजाने नहीं आते, 
....फिर जीवन में दोस्त पुराने नहीं आते...

.....जी लो इन पलों को हस के दोस्त, 
फिर लौट के दोस्ती के जमाने नहीं आते ....

Thursday, 2 June 2016

उम्र

*आज मुलाकात हुई*
*जाती हुई उम्र से*

*मैने कहा जरा ठहरो तो*
*वह हंसकर इठलाते हुए बोली*
*मैं उम्र हूँ ठहरती नहीं*
*पाना चाहते हो मुझको*
*तो मेरे हर कदम के संग चलो*

*मैंने मुस्कराते हुए कहा*
*कैसे चलूं मैं बनकर तेरा हमकदम*
*संग तेरे चलने पर छोड़ना होगा*
*मुझको मेरा बचपन*
*मेरी नादानी, मेरा लड़कपन*
*तू ही बता दे कैसे समझदारी की*
*दुनियां अपना लूँ*
*जहाँ हैं नफरतें, दूरियां,*
*शिकायतें और अकेलापन*

*उम्र ने कहा*
*मैं तो दुनियां ए चमन में*
*बस एक “मुसाफिर” हूँ*
*गुजरते वक्त के साथ*
*इक दिन यूं ही गुजर जाऊँगी*
*करके कुछ आँखों को नम*
*कुछ दिलों में यादें बन बस जाऊँगी*

Wednesday, 1 June 2016

मां !!!


पत्नी बार बार मां पर इल्जाम लगाए जा
रही थी और पति बार बार उसको अपनी हद में
रहने की कह रहा था
लेकिन पत्नी चुप होने का नाम ही नही ले
रही थी व् जोर जोर से चीख चीखकर कह रही
थी कि
"उसने अंगूठी टेबल पर ही रखी थी और तुम्हारे
और मेरे अलावा इस कमरें मे कोई नही आया
अंगूठी हो ना हो मां जी ने ही उठाई है।।
बात जब पति की बर्दाश्त के बाहर हो गई तो
उसने पत्नी के गाल पर एक जोरदार तमाचा दे
मारा
अभी तीन महीने पहले ही तो शादी हुई थी ।
पत्नी से तमाचा सहन नही हुआ
वह घर छोड़कर जाने लगी और जाते जाते पति
से एक सवाल पूछा कि तुमको अपनी मां पर
इतना विश्वास क्यूं है..??
तब पति ने जो जवाब दिया उस जवाब को
सुनकर दरवाजे के पीछे खड़ी मां ने सुना तो
उसका मन भर आया पति ने पत्नी को बताया
कि
"जब वह छोटा था तब उसके पिताजी गुजर गए
मां मोहल्ले के घरों मे झाडू पोछा लगाकर जो
कमा पाती थी उससे एक वक्त का खाना
आता था
मां एक थाली में मुझे परोसा देती थी और
खाली डिब्बे को ढककर रख देती थी और
कहती थी मेरी रोटियां इस डिब्बे में है
बेटा तू खा ले
मैं भी हमेशा आधी रोटी खाकर कह देता था
कि मां मेरा पेट भर गया है मुझे और नही
खाना है
मां ने मुझे मेरी झूठी आधी रोटी खाकर मुझे
पाला पोसा और बड़ा किया है
आज मैं दो रोटी कमाने लायक हो गया हूं
लेकिन यह कैसे भूल सकता हूं कि मां ने उम्र के
उस पड़ाव पर अपनी इच्छाओं को मारा है,
वह मां आज उम्र के इस पड़ाव पर किसी अंगूठी
की भूखी होगी ....
यह मैं सोच भी नही सकता
तुम तो तीन महीने से मेरे साथ हो
मैंने तो मां की तपस्या को पिछले पच्चीस
वर्षों से देखा है...
यह सुनकर मां की आंखों से छलक उठे वह समझ
नही पा रही थी कि बेटा उसकी आधी
रोटी का कर्ज चुका रहा है या वह बेटे की
आधी रोटी का कर्ज...

Today

*SOME DAY & ONE DAY*

_A friend of mine opened his wife's wardrobe and picked up a silk paper wrapped package._

_"This," he said, "isn't any ordinary package."_

_He unwrapped the box and stared at both the silk paper and the box and silk satin dresses inside._

_"She got this the first time we went to New York , 8 or 9 years ago. She has never put it on , was saving it for a special occasion. Well, I guess this is it."_

_He got near the bed and placed the gift box next to the other clothing he was taking to the funeral house, his wife had just died._

_He turned to me and said, "never save something for a 'special occasion'. Every day in your life is a *'Special occasion'"*_

_I still think those words changed my life._

_Now I read more and clean less._

_I sit on the porch without worrying about anything._

_I spend more time with my family, and less at work._

*_I understood that life should be a source of experience to be lived up to, not survived through._*

_I no longer keep anything._

_I use crystal glasses every day._

_I'll wear new clothes to go to the supermarket, if I feel like it._

*_I don't save my special perfume for special occasions, I use it whenever I want to._*

_The words *'Someday....' and ' One Day...'*are fading away from my dictionary._

_If it's worth seeing, listening or doing, I want to see, listen or do it now._

_I don't know what my friend's wife would have done if she knew she wouldn't be there the next morning, this nobody can tell._

_*Each day, each hour, each minute, is special.*_

_Live for today, for tomorrow is promised to no-one._

Power of non-violence

*"Dr. Arun Gandhi, grandson of Mahatma Gandhi and founder of the M.K. Gandhi Institute for Non-violence, in his lecture at the University of Puerto Rico, shared the following story as an example of "non-violence in parenting":*

"I was 16 years old and living with my parents at the institute my grandfather had founded 18 miles outside of Durban, South Africa, in the middle of the sugar plantations. We were deep in the country and had no neighbors, so my two sisters and I would always look forward to going to town to visit friends or go to the movies.

One day, my father asked me to drive him to town for an all-day conference, and I jumped at the chance. Since I was going to town, my mother gave me a list of groceries she needed and, since I had all day in town, my father ask me to take care of several pending chores, such as getting the car serviced. When I dropped my father off that morning, he said, 'I will meet you here at 5:00 p.m., and we will go home together.'

After hurriedly completing my chores, I went straight to the nearest movie theatre. I got so engrossed in a John Wayne double-feature that I forgot the time. It was 5:30 before I remembered. By the time I ran to the garage and got the car and hurried to where my father was waiting for me, it was almost 6:00.

He anxiously asked me, 'Why were you late?' I was so ashamed of telling him I was watching a John Wayne western movie that I said, 'The car wasn't ready, so I had to wait,' not realizing that he had already called the garage. When he caught me in the lie, he said: 'There's something wrong in the way I brought you up that didn't give you the confidence to tell me the truth. In order to figure out where I went wrong with you, I'm going to walk home 18 miles and think about it.'

So, dressed in his suit and dress shoes, he began to walk home in the dark on mostly unpaved, unlit roads. I couldn't leave him, so for five-and-a-half hours I drove behind him, watching my father go through this agony for a stupid lie that I uttered. I decided then and there that I was never going to lie again.

I often think about that episode and wonder, if he had punished me the way we punish our children, whether I would have learned a lesson at all. I don't think so. I would have suffered the punishment and gone on doing the same thing. But this single non-violent action was so powerful that it is still as if it happened yesterday. That is the power of non-violence."

*"Forgiveness is giving up my right to hate you for hurting me."*

Love girl child...

पापा देखो मेंहदी वाली.
मुझे मेंहदी लगवानी है

“पंद्रह साल की छुटकी बाज़ार में बैठी
मेंहदी वाली को देखते ही मचल गयी.

“कैसे लगाती हो मेंहदी ” ?
पिता ने सवाल किया.

“एक हाथ के पचास दो के सौ”
मेंहदी वाली ने जवाब दिया.

पिता को मालूम नहीं था
मेंहदी लगवाना इतना मँहगा हो गया है.

“नहीं भई एक हाथ के बीस लो , वरना हमें नहीं लगवानी.”
यह सुनकर छुटकी नें मुँह फुला लिया.

“अरे अब चलो भी ,नहीं लगवानी इतनी मँहगी मेंहदी”
पिता के माथे पर लकीरें उभर आयीं .

“अरे लगवाने दो ना साहब..अभी आपके घर में है तो आपसे लाड़ भी कर सकती है, कल को पराये घर चली गयी तो पता नहीं ऐसे मचल पायेगी या नहीं ? तब आप भी तरसोगे बिटिया की फरमाइश पूरी करने को.

” मेंहदी वाली के शब्द थे तो चुभने वाले पर उन्हें सुनकर पिता को अपनी बड़ी बेटी की याद आ गयी..?
जिसकी शादी उसने तीन साल पहले एक खाते -पीते पढ़े लिखे परिवार में की थी.
उन्होंने पहले साल से ही उसे
छोटी छोटी बातों पर सताना शुरू कर दिया था. दो साल तक वह मुट्ठी भरभर के रुपये उनके मुँह में ठूँसता रहा पर उनका पेट बढ़ता ही चला गया और अंत में एक दिन सीढियों से गिर कर बेटी की मौत की खबर ही मायके पहुँची. आज वह छटपटाता है कि उसकी वह बेटी फिर से उसके पास लौट आये..?
और वह चुन चुन कर उसकी
सारी अधूरी इच्छाएँ पूरी कर दे. पर वह अच्छी तरह जानता है ।
कि अब यह असंभव है.

“लगा दूँ बाबूजी…?, एक हाथ में ही सही ”
मेंहदीवाली की आवाज से पिता के ख्याल टूटे ।

“हाँ हाँ लगा दो. एक हाथ में नहीं दोनों हाथों में.
और हाँ, इससे भी अच्छी वाली हो तो वो लगाना.”
पिता ने डबडबायी आँखें पोंछते हुए कहा
और बिटिया को आगे कर दिया.

ईश्वर से दुआ करो जब तक बेटी हमारे घर है, तब तक हम उनकी हर इच्छा पूरी करने का ज़रियख बने ।
क्या पता आगे उसकी कोई इच्छा पूरी हो पाये या ना नहीं ?

MISSING GOLDEN DAYS OF LIFE.

एक पल के लिये सोचो कि यदि दोस्त ना होते तो क्या हम ये कर पाते–
Image result for nursery and kg imageनर्सरी में गुम हुये पानी की बॉटल का ढक्कन कैसे ढूंढ पाते..
.
LKG में A B C D लिख कर होशियारी किसे दिखाते..
UKG में आकर हम किसकी पेन्सिल छुपाते..
.
पहली में बटन वाला पेन्सिल बॉक्स किसेदिखाते..
..
दूसरी में गिर जाने पर किसका हाथ सामने पाते..
.
.
तीसरी में absent होने पर कॉपी किसकी लाते..
.
.
.
चौथी में दूसरे से लड़ने पर डांट किसकी खाते..
.
.
.
पांचवी में फिर हम अपना लंच किसे चखाते..
.
छठी में टीचर की पिटाई पर हम किसे चिढाते..
.
.
..
.
.
..
सातवीं में खेल में किसे हराते / किससे हारते..
.
.
.
आठवीं में बेस्ट फ्रेंड कहकर किससे मिलवाते..
.
..
..
..
नवमीं में बीजगणित के सवाल किससे हल करवाते..
..
..
..
..
.
.
.
दसवीं में बॉयलाजी के स्केचेज़ किससे बनवाते..
..
..
.
.
..
..
ग्यारहवीं में “अपनीवाली” के बारे में किसे बताते..
.
..
..
बारहवीं में बाहर जाने पर आंसू किसके कंधे पर बहाते..
..
..
..
मोबाइल नं. से लेकर “उसकेभाई कितने हैं” कैसे जान पाते..
.
.
मम्मी, दीदी या भैय्या की कमी कैसे सहपाते..
.
हर रोज कॉपी या पेन भूल कर कॉलेज कैसे जाते..
.
.
“अबे बता” परीक्षा में ऐसी आवाज किसे लगाते..
जन्मदिनों पर केक क्या हम खुद ही अपने चेहरे पर लगाते..
.
.
Image result for nursery and kg imageकॉलेज बंक कर पिक्चर किसके साथ जाते..
.
“उसके” घर के चक्कर किसके साथ लगाते..
.
डिग्री मिलने की खुशी हम किसके साथ बांटते.
.
बहनों की डोलियां हम किसके कंधों के भरोसे उठाते.
.
ऐसी ही अनगिनत यादों को हम कैसे जोड़ पाते
बिना दोस्तों के हम सांस तो लेते पर,
शायद जिन्दगी ना जी पाते ।.
.
.
.
.
…!!!
स्कूल ही हमारी लाइफ थी
.
.
.
Last bench पर हमारी Team थी….
.
.
.
जन-गण-मन के समय स्कूल के बाहर रहना …
.
.
.
प्रार्थना के वक्त भी….
.
सबके समान…सिर्फ
.
होठ हलाना ….
.
.
.
बारिश मे स्कूल
.
जाते वक्त,
छाता बैग मे रखकर?
.
जानबुझकर गीले होते जाना,
.
.
.
किताबे गिली ना हो
.
इसलिए ….उन्हे पॉलिथीन मे रखना….
.
.
.
स्कूल से आते आते …
.
एखादी पानी के गड्ढे मे कुद के
सभी के कपड़े खराब करना
.
.
.
हर Off -Period मे P.T.
के लिये…हमारा झगडा़…
.
.
.
स्कूल से घर जाते वक्त….वो बर्फ का
गोला खाना….
.
.
.
इतिहास मे था शाहिस्तेखान
.
नागरिक शास्त्र मे प्रधानमंत्री
.
गणित… भुमिती …
.
पायथागोरस का प्रमेय…
.
हिंदी की वो “चिटी कि
आत्मकथा”
.
English मे Grammar से ही हो
गयी थी हमारी व्यथा …
.
स्कूल के दीन अभी भी याद
आते है…. Desk पर Pen से
वो “Pen-fights”
.
खेलना….
.
.
.
Exams मे
.
रिक्त जगह भरना…
.
आैर जोडी मिलाना…
.
.
.
.
.
पर अब स्कूल नही, दोस्त नही,
.
परीक्षा नही,
.
परिक्षा का Tension नही, एक साथ रहना
नही
.
गीले शीकवे नही.....I
.
.
..
अब रह गयी सिर्फ
.
"दुनियादारी".
.